मन की बात: पीएम मोदी के कार्यक्रम से जुड़ी 4 बड़ी बातें, जो है जानना जरूरी

0
51

नई दिल्ली: चीन दौरे से लौटने के बाद पीएम मोदी ने देशवासियों से मन की बात की। यह पीएम का 43वां एपिसोड था। पीएम ने उपलब्धियों, रोजगार और विकास के मसलों पर बात की। इस कार्यक्रम को रेडियो प्रोग्राम ऑल इंडिया रेडियो, दूरदर्शन और नरेंद्र मोदी ऐप (नमो ऐप) पर भी प्रसारित किया गया।

कार्यक्रम की शुरूआत पीएम ने खिलाड़ियों से की। जिन्होंने ‘पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया में कॉमनवेल्थ खेलों का आयोजन हुआ, जहां पर भारतीय खिलाड़ियों ने देश का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया। भारतीय खिलाड़ियों ने 26 गोल्ड, 20 सिलवर, 20 कांस्य पदक जीतें।

मुख्य बातें..
नीचे ऑडियो के साथ यहां हम इस कार्यक्रम की मुख्य बातें बता रहे हैं। अगर आप इस कार्यक्रम को पूरा सुनना चाहते हैं तो नीचे ऑडियो दी है..

1-समर स्वच्छ भारत इंटर्नशिप से देश के बच्चों को जुड़ना चाहिए। इंटर्नशिप खत्म होने के बाद छात्र को सरकार की ओर से सर्टिफिकेट दिए जाएंगे।

2- जल संरक्षण समाजिक जिम्मेदारी होनी चाहिए, क्योंकि एक व्यक्ति के जिम्मेदारी निभाने से देश का या फिर दुनिया का उद्दार नहीं होगा. हमें पानी की एक बूंद-बूंद पानी की कीमत को समझना चाहिए।

3- रमजान का पवित्र महीना एक महीने में शुरू होने वाला है, इस महीने में पैंगबर मोहम्मद साहब की बातों से शिक्षा लेनी चाहिए. पैंगबर मोहम्मद ने कहा था कि अगर आपके पास किसी चीज की अधिकता है तो आप उसे दूसरों में दान करें।

4- कविगुरु रविंद्रनाथ टैगोर के याद करते हुए पीएम ने कहा, गुरुदेव टैगोर ज्ञान और विवेक से संपूर्ण व्यक्तित्व वाले थे, जिनकी लेखनी ने हर किसी पर अपनी अमिट छाप छोड़ी। एक प्रतिभाशाली और बहुआयामी व्यक्तित्व थे, लेकिन उनके अंदर एक शिक्षक था जिसे हर पल हम अनुभव कर सकते हैं। हम उनके योगदान के लिए अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।

बता दें कि नरेंद्र मोदी ने जिस दिन से प्रधानमंत्री का कार्यभार संभाला है, तभी से हर महीने के आखिरी रविवार को रेडियो से देश की जनता को संबोधित कर रहे हैं। समय-समय पर पीएम मोदी इस कार्यक्रम का लोगों से फीडबैक भी मांगते रहते हैं और अन्य कार्यक्रमों के लिए सुझाव भी।

देखें वीडियो-

ये भी पढ़ें: 

रूचि के अनुसार खबरें पढ़ने के लिए यहां किल्क कीजिए

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर। आप हमें फेसबुकट्विटर और यूट्यूब पर फॉलो भी करें )

Comments

comments