कठुआ गैंगरेप: हिंदु-मुस्लिम के बीच दरार पैदा करने की साजिश, पुलिस अधिकारी बोला- रुको, मैं भी कर लूं रेप

0
249

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में इसी साल जनवरी में आठ साल की बच्ची से गैंगरेप और हत्या के मामले में चार महीने बाद अब पुलिस ने आठ आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है। आरोपियों के खिलाफ पुलिस की यह चार्जशीट बताती है कि मासूम बच्ची के साथ किस हद तक दरिंदगी की गई थी।

CBI द्वारा तैयार की गई चार्जशीट में साफ हो गया है कि यह दो समुदाय यानी हिंदु-मुस्लिम को आपस में लड़ाने की साजिश के तौर पर किया गया गैंगरेप है। जिसका मास्टरमाइंड संजी राम को बताया गया है। बकरवाल समुदाय की इस मासूम बच्ची का अपहरण, रेप और मर्डर इलाके से इस अल्पसंख्यक समुदाय को हटाने की एक सोची-समझी साजिश का हिस्सा थी।

क्या है चार्जशीट में-
15 पन्नों की इस चार्जशीट में रासना गांव में देवीस्थान, मंदिर के सेवादार संजी को मुख्य साजिशकर्ता बताया गया है। मास्टरमाइंड संजी समुदाय को हटाने के लिए इस घिनौने कृत्य को अंजाम देना चाहता था। इसके लिए वह अपने नाबालिग भतीजे और अन्य छह लोगों को लगातार उकसा रहा था। पुलिस के मुताबिक साजिशकर्ता संजी के साथ विशेष पुलिस अधिकारी दीपक खजुरिया और सुरेंद्र वर्मा, उसके दोस्त परवेश कुमार उर्फ मन्नू, भतीजा राम किशोर और उसका बेटा विशाल जंगोत्रा उर्फ शम्मा भी कथित रूप से इस घिनौने कृत्य में शामिल रहे।

rape-03_041218093709

साजिश को अंजाम तक पहुंचाने के लिए ऐसे लिया हिंदु समुदाय का साथ-
चार्जशीट में कहा गया है कि साजिशकर्ता संजी बकरवाल समुदाय के तहसील में बसने के खिलाफ था। उसने हिंदू समुदाय के लोगों को भी भड़काया कि वे इस समुदाय के लोगों को बसने के लिए जमीनें न दें। चार्जशीट में कहा गया है कि तहसील में ज्यादातर हिंदू समुदाय की यह सोच बन गई थी कि यह समुदाय गो-हत्या और ड्रग तस्करी से जुड़ा है। अगर ये यहां बसते हैं तो उनके बच्चों का भविष्य खराब हो जाएगा। इस कारण से किसी न किसी बात को लेकर बकरवाल समुदाय के लोगों को धमकियां दी जाती रहीं। संजी और अन्य साजिशकर्ता भी इस समुदाय के वहां बसने के खिलाफ थे।

rape-02_041218093709

पिछले तीन-चार सालों में बढ़ा विवाद-
स्थानीय लोगों का कहना है कि नोमाद बकरवाल और डोगरा समुदाय के बीच इस इलाके में वर्चस्व को लेकर पहले तो कोई विवाद नहीं होता था, लेकिन पिछले 3-4 सालों में दोनों समुदायों के बीच तनाव बढ़ा है।

पुलिस अधिकारी भी शामिल-
चार्जशीट में कहा गया है कि, जब सभी आरोपी मासूम से बारी-बारी से रेप कर रहे थे, एक विशाल ने मेरठ में पढ़ने वाले अपने चचेरे भाई को फोन करके कहा कि अगर वह ‘मजा लूटना चाहता’ है तो आ जाए। इतना ही नहीं चार्जशीट के मुताबिक बच्ची को मारने से ठीक पहले एक पुलिस अधिकारी ने उन्हें कुछ देर के लिए रोका क्योंकि वह अंतिम बार फिर रेप करना चाहता था। इसके बाद दूसरों ने भी फिर से बच्ची का रेप किया।

rape-04_041218093709
मामला दबाने के लिए 1.5 लाख रूपये की दी रिश्वत-
चार्जशीट में कहा गया है कि रेप के बाद उसकी हत्या कर दी गई। मारने के बाद भी आरोपियों ने यह सुनिश्चित करने के लिए मासूम मर जाए, उसके सिर पर पत्थर से कई वार किए। बाद में जांच के दौरान राम ने पुलिसकर्मियों को मामला दबाने के लिए 1.5 लाख रुपये की रिश्वत भी दी।

गुस्से में प्रदेश-
यह चार्जशीट सामने आने के बाद प्रदेश में तनाव बढ़ गया है। उधर, कुछ वकीलों ने चार्जशीट पर सवाल उठाते हुए सीबीआई जांच की मांग की है। बुधवार को चार्जशीट दाखिल करने पहुंची क्राइम ब्रांच टीम को भी वकीलों के इस समूह ने रोकने की कोशिश की थी। वहीं पीड़ित परिवार की वकील डीएस राजावत ने स्थानीय वकीलों और जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट में बार असोसिएशन अध्यक्ष बीएस सलाठिया पर केस ना लड़ने के लिए धमकी देने और चार्जशीट फाइल करने से रोकने का आरोप लगाया है।

gangrape_041218093709

कौन थी मासूम बच्ची-

कठुआ जिले के गांव रसाना में बच्ची आसिफा बानो अपने परिवार के साथ रहती थी। बच्ची खानाबदोश मुस्लिम समुदाय से थी। उस बकरवाल समुदाय से, जो कठुआ में अल्पसंख्यक है। वहां रहने वाले हिंदू परिवारों की बकरवालों से अतिक्रमण और आबादी में घुसपैठ के चलते लड़ाई होती रहती है। इन 2 समुदायों के बीच लंबे समय से चल रही दुश्मनी का खामियाजा उस 8 साल की बच्ची को भुगतना पड़ा।

कुछ हिंदू लोगों ने बकरवाल समुदाय को सबक सिखाने की ठानी और इसके लिए बच्ची को टारगेट किया गया। उसके कुनबे को हटाने के लिए साजिश रची गई थी। प्लान के तहत 10 जनवरी को घोड़ों को चराने के लिए आसपास के जंगलों में निकली बच्ची घर नहीं लौट पाई। घरवालों ने हीरानगर पुलिस से बच्ची के गायब होने की शिकायत दर्ज करवाई। हफ्ते भर तक कोई खोज-खबर नहीं मिलने के बाद 17 जनवरी को जंगल में बच्ची की लाश मिली थी।

रूचि के अनुसार खबरें पढ़ने के लिए यहां किल्क कीजिए

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर। आप हमें फेसबुकट्विटर और यूट्यूब पर फॉलो भी करें

Comments

comments