गुर्जर आरक्षण आंदोलन: राजस्थान के कई हिस्सों में धारा 144, इंटरनेट सेवा ठप

0
300

राजस्थान: प्रदेश में गुर्जर आरक्षण के मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है। इसे लेकर भरतपुर में मंगलवार को समाज के दो गुटों की अलग-अलग महापंचायतें हो रही हैं। इनमें एक पंचायत आंदोलन के नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के नेतृत्व में अड्डा गांव तो दूसरी छत्तीसा के पंच-पटेलों की ओर से मोरोली स्थित टोंटा बाबा मंदिर पर होगी। इधर, आंदोलन उग्र होने की आशंका को देखते हुए रेल पटरियों और सरकारी संपत्तियों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त संख्या में पैरामिलिट्री फोर्स तैनात की गई हैं। जिले का बयाना क्षेत्र एक तरह से छावनी में तब्दील हो गया है।

पूरे जिले में धारा 144 लागू करने के साथ ही, बयाना, उच्चैन, रुदावल आदि क्षेत्रों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं मंगलवार शाम तक के लिए बंद कर दी गई हैं। राजस्थान रोडवेज ने बयाना से आगे करौली और हिंडौन मार्ग पर मंगलवार सुबह से ही बसों का संचालन बंद करने का फैसला किया है। राजस्थान रोडवेज की बसें मंगलवार को भरतपुर से आगे बयाना तक ही जाएंगी। जबकि आगे करौली-हिंडौन मार्ग पर सुबह 6 बजे से बसों का संचालन बंद रहेगा।

खेतों को समतल करके लगाए टैंट
महापंचायत के लिए सोमवार को अड्डा गांव में ग्रामीणों ने खेतों को ठीक करके महापंचायत के लिए टैंट लगा दिए। वहीं मोरोली के टोंटा बाबा मंदिर पर भी महापंचायत को लेकर तैयारियां की गई। वहीं दोनों महापंचायतों के लिए जिला प्रशासन से सशर्त अनुमति दी हैं। एसडीएम संतोष मीणा ने बताया कि अड्डा महापंचायत के लिए जिला परिषद सदस्य राजाराम अड्डा की ओर से और मोरोली महापंचायत के लिए जसपुरा मोरोली सरपंच प्रतिनिधि यादराम गुर्जर की ओर से आवेदन दिए गए हैं। रेलवे ने बिहार से आरपीएसएफ की एक कंपनी हिंडौन रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई है, जिनको अलग-अलग जगह तैनात किया गया है। एक दर्जन से ज्यादा सशस्त्र जवान गंगापुर सिटी रेलवे स्टेशन पर तैनात किए गए हैं।

सुरक्षा के लिए अतिरिक्त कंपनियां मंगवाई
करौली-हिंडौन, दौसा व गंगापुर सिटी में सुरक्षा के लिहाज से अतिरिक्त कंपनियां मंगवाई गई हंै। राजनीतिक व सामाजिक कार्यकर्ताओं से अलग-अलग बातचीत की जा रही है, ताकि सुरक्षा व कानून व्यवस्था बनी रहे। जयपुर वार्ता में सकारात्मक परिणाम आने की संभावना है।
चांदनियों से कवर किया जाएगा क्षेत्र

बंदे कमरे में दो घंटे चली वार्ता
गुर्जर आंदोलन के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के वर्धमान नगर स्थित निवास पर सरकार से वार्ता के लिए जाने से पूर्व बंद कमरे में दो घंटे वार्ता हुई। सरकार से वार्ता के लिए संघर्ष समिति से जुडे 15 सदस्यों की कमेटी बनाई है।

ये भी पढ़ें:

रूचि के अनुसार खबरें पढ़ने के लिए यहां किल्क कीजिए

ताजा अपडेट के लिए लिए आप हमारे फेसबुकट्विटरइंस्ट्राग्राम और यूट्यूब चैनल को फॉलो कर सकते हैं

Comments

comments